No. 1 Best School Crush Love Story in hindi

School Crush Love Story: नीचे दी गई कहानी पर हमने School Love Story के बारे में बताया है। जब हम स्कूल में होते हैं, तो हम एक लड़की को पसंद करते हैं, हम उसे School Love Story कहते हैं।

स्कूल के वह कहानी सुन कर हमें अजीब सा महसूस होता है। हमें एक ऐसी लड़की पसंत हो जाती है जिस से हम कभी उम्मीद नहीं की थी। और जिस से उम्मीद की थी वह हमें प्यार करता ही नहीं था आइए नीचे दी गई स्कूल लव स्टोरी की तुलना करें

क्रश हो क्रश रहो School Crush Love Story

School Crush Love Story: मेरा नाम लिए बगैर मुझे कभी पुकारती नहीं थी। ज्यादातर सबको भैया बोलती थी । पर मेरे नाम के आगे कभी ऐसा वर्ड लगाती नहीं थी

ज़्यादा बड़ा नहीं था मैं उससे कुछ महीनो का ही डिफरेंस होगा औरो को भैया और मुझे मेरे नाम से बुलाता था मुझ से बड़ा खुशनसीब कोई नहीं होगा

मैं खुश रहता था जो सोचता था । शायद वह भी कुछ सोचती होगी । मैं कोई एक्सेप्शन हूँगा शायद या थोड़ा मुझे स्पेशल मानती होगी

उसके पीछे तोह कई लोग घायल थे । अब मैं बहोटों को चिढ़ाता भी था । मैं अकेला शायद उस लिस्ट में था । तोह मज़ा भी अलग सा ही आता था

कुछ छोटी छोटी चीज़ों में भी खुशी ढूंढने का अलग मज़ा था । एक मुस्कराहट जाग जाती थी जब उसकी आवाज़ में मैं अपना नाम सुनता था।

पर मेरी ख़ुशी को किसी की नज़र लगी। या फिर उसी की भनक लग गयी । अचानक एक दिन उसने मुझसे कहा की आप मेरी कितनी केयर करते हो ना ।

मैं मुस्कुराने लगा नज़रें झुका के सोचा, अब कुछ हो सकता है आगे ऐसी बातें कभी सुनी नहीं थी ना । मुझ से किसी ने ऐसी बातें कही नहीं थी।

आप मुझे अच्छे लगते हो। उसने कहा, तुम भी मुझे पसंद हो। मैंने जवाब दिया

मैं पूरे फील में आ चूका था। सोचा नहीं था पर वैसा हो रहा थ। आँखों से आँखों की बातें फिर वह काट के बोली इस रक्षा बंधन पे ना आपको राखी बांधूंगी

आप स्वीट हो, केयरिंग हो बहोत अच्छे हो। तोह क्या आप मेरे भाई बन सकते हों। एक सेकंड,,, यह माहौल क्रिएट किया उसने भाई का प्रपोजल देने के लिए ?

मुझे इतना गुस्सा आ रहा था ना की कुछ वर्ड मिल ही नहीं रहा था कुछ कहने के लिए । रक्षा बंधन आ रही है तोह राखी पहनाने का मन हो रहा है,

वैलेंटाइन्स डे भी तोह आया था । तब तोह रोज दिया नहीं था ।मैं क्या बोलता उससे ? मुझे हर्ट हो गया था

जो उम्मीद कभी की नहीं थी। ऐसा कुछ हो गया था । मैं केयरिंग हूँ, तुम इसके लिए मुझे भाई बनाना चाहती हो।

तोह मैं कुछ और बनके भी केयरिंग। हो सकता हूँ ना, एक मौका दो, मैं ऐसा ही रहूँगा। कोशिश करके देखो, कभी तोह समझो ना।

मैं उससे कहने ही वाला था की प्लीज भाई नहीं , अच्छा नहीं लगता तोह मुझसे पहले उसने ही कहा सॉरी, डेअर मिला था ।

आप भाई वाले मटेरियल हो नहीं हम फ्रेंड्स ही अच्छे हैं। इस डेयर ने तोह मेरी जान निकल के रख दी थी यार चलो अब थोड़ा सांस ले सकते है।

मैं मुस्क़ुअराय थोड़ा उसे देख कर डर गया था यह सुन कर। फ्रेंड के लेवल से आगे उठना चाहता हूँ। और अभी रह जाता भाई बन कर

मैं ख़ुशी ख़ुशी घर गया उस दिन चलो फ्रेंड्स जो बोला था उसने फर्स्ट टाइम पर एक बात कहना चाहता हूँ। यार तुम क्रश हो तोह क्रश की तरह रहो। पता तुम्हे भी है, फिर मज़ाक में भी “भाई मत कहो “।

Narrated by: Abhaj Jha


Read More: School Crush Love Story

Read Also: The Most Beautiful Heart

Read also: Moral Story for kids

Leave a comment