School ki Short Sad Love Story in Hindi

School ki Sad Love Story in Hindi

Short Sad Love Story, I kept looking for him

short sad love story
short sad love story

I kept looking for him, मैं उसे ढूंढता रह गया

मेरी स्टोरी की स्टार्टिंग अगस्त २००७ को होती है। १५ अगस्त के वजह से डांस की रिहर्सल चल रही थी। मैं एक चेयर(sponsored) पे बैठ कर झूल रहा था। सडनली मेरा बैलेंस बिगड़ा और मैं ज़मीन पे गिर गया। 

Read Also: school love story

तभी मैंने ताली बजने की आवाज़ सुना। जब मैंने उस लड़की को देखा तो मेरे होश उड़ गए। और वह बोल रही थी।  “बहुत अच्छा हुआ ” उस वक़्त मेरे दिल के धड़कन मुझे साफ़ सुनाई दे रही थी। 

अगला दिन संडे था।  तो मैं उस दिन बड़ा अजीब सा महसूस कर रहा था। मेरा बस उसका चेहरा मेरी आँखों में आ रहा था।
 फिर स्कूल स्टार्ट हुआ मैंने दोस्तों से पता किया तो पता चला उसका नाम निधि है। और ९ स्टैण्डर्ड में पड़ती है। D. E. C.  वह स्कूल जो की श्याम नगर कानपूर में था। 

वह पत्ते कट बाल , नोज में  गोल्डन नथिया ,हेयर बैंड , वह आँखे , गलो में डिंपल ,  गोरा चेहरा और एक दम सख्त मिजाज़ वाली लड़की थी उसके जैसी कोई आज तक नै देखी। ऐसे वक़्त बीत रहा था ,मैं उसे देखता और वह मुझे देखती। 

एक बार मेरा एक्सीडेंट हो गया। स्कूल जाते वक़्त तो मैं घर वापस चला गया और मुझे पता चला की वो मेरा एक्सीडेंट को सुन कर मेरी क्लास में आई और मेरी हालत को पूछ कर चली गए। टाइम बीत रहा था मैंने बंदर की तरह कूद फांद करता तो वह मुझ डाटि “मर करो चोट लग जाएगी “

वह दिन था २६ जनुअरी २००८ का जब मैंने उसकी फ्रेंड्स को अपनी फीलिंग बताया। तो उन्होंने शायद बताया था। और स्कूल छुट्टी होने पर उसकी फ्रेंड्स ने मुझे बताया की उसने कहा है “मेरे पास आलरेडी है तुम कोई और ढूंढ लो ” उस दिन मैं बहुत ज़्यादा रोया था। २ दिन तक कुछ भी खाया भी नै था। 

उसके बाद मैं उसे इगनोर करना लगा।  वह आती और मैं दूर चला जाता।  ऐसे ही चलता रहा और एग्जाम टाइम आ गया। उनफोर्चूनट्ली मैं एक महीने तक बीमार हो गया और स्कूल जा नै पाया। जब गया तो पता चला निधि स्कूल छोरके चली गई। 

उसके पापा आर्मी मैं थे तो उनका कही ट्रांसफर हो गया। पता नै कहा मुझे बहुत दुःख हुआ उसके जाने का। बट मैंने इनक्युरी की शायद उसकी कोई  इन्फो मिल जाए। बट मैं नाकामयाब रहा। 

उसे गए हुआ 8 ईयर हो चुके है लेकिन आज भी मैं उसे पागलो की तरह ढूंढ रहा हूँ और देवानो की तरह उसका इंतज़ार कर रह हूँ। 
मैंने सब कुछ करके देख लिया पर उसे ढूंढ न सका और भुला बी न सका 

Related Articles

Painful School Love Story in Hindi 10th Love

में    अपने    Girl   Friend    के    साथ    1st    Class    से    Study    करता    था।    उस    Time    हमे    प्यार    का    एहसास    नहीं    था।    

Best 3 Sad Love Story in Hindi

Sad love story :मुझे याद है अपना पहला प्यार Riya जिससे मुझे पहली नज़र में ही प्यार हो गया था। Riya इतनी ब्यूटीफुल थी की उसके फेस से मेरी नज़रें हटती ही नहीं थी।

लोहे का तराजू Lohe ka Taraju Best Hindi Kahani

एक व्यपारी का बेटा था राज । एक बार उसे व्यापर में काफी नुकसान हुआ और उसने अपनी तमाम पूँजी गँवा दी। इस मुश्किल समय में उसने सोचा क्यों न शहर जाकर नए सिरे से काम शुरू किया जाए। उसके पास पुरखों का दिया एक कीमती लोहे का तराजू था।

Responses